बॉक्सर मनोज को डीएसपी नियुक्त करने को लेकर सी.एस.वी.पी का प्रदर्शन

मुख्यमंत्री के नाम मांगों का ज्ञापन ओएसडी को सौंपा

सी.एस.वी.पी न्यूज | करनाल

सी.एस.वी.पी के सैंकड़ो कार्यकर्ताओं ने छत्रपति शिवाजी विद्यार्थी परिषद के बैनर तले अर्जुन अवार्डी बॉक्सर मनोज के साथ सरकार द्वारा किए जा रहे कथित भेदभाव को लेकर शनिवार को शहर में प्रदर्शन किया।

प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि कांग्रेस सरकार ने केवल अपने चहेते खिलाडिय़ों को नौकरियां दी थीं, जबकि प्रतिभाशाली खिलाड़ी मनोज की अनदेखी की गई। इसके बाद प्रदर्शन कर सी.एस.वी.पी के सैंकड़ो कार्यकर्ताओं ने ओएसडी अमरेंद्र सिंह को सीएम के नाम ज्ञापन सौंपकर बॉक्सर मनोज को डीएसपी पद पर पदोन्नत करने की मांग की।

शनिवार को विभिन्न गांवों से सी.एस.वी.पी के कार्यकर्ता बस स्टैंड के समीप रोड़ धर्मशाला में एकत्रित हुए। परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष गौरव पिचौलिया ने कहा कि अर्जुन अवार्डी बॉक्सर मनोज कुमार का नाम विश्व के पहले 10 बॉक्सरों में लिया जाता है। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे को लेकर शीघ्र ही 31 सदस्यीय कमेटी मुख्यमंत्री मनोहरलाल से मुलाकात करेगी। मनोज कुमार अभी इंस्पेक्टर हैं।शहर की सड़कों से प्रदर्शन करते हुए समुदाय के लोग मुख्यमंत्री के ओएसडी अमरेंद्र सिंह के निवास पर पहुंचे। वहां उन्होंने सीएम के नाम मांगों का एक ज्ञापन ओएसडी को सौंपा।

ओएसडी ने उन्हें आश्वासन दिया कि उनकी मांग को सीएम तक पहुंचाया जाएगा और हर संभव मदद कर न्याय दिलाने में सहयोग किया जाएगा। प्रदर्शन में परिषद के करनाल जिलाध्यक्ष नवनीत मैहला, कोच राजेश कुमार, चमेल सिंह, पूर्व सरपंच राजेंद्र, सरपंच बलबीर सिंह, जिला परिषद सदस्य भाग सिंह, पूर्व सरपंच नीरज, पूर्व सरपंच शेर सिंह, सुशील कुमार, रामचंद्र, रमनीक खोकर नली, जितेन्द्र मराठा हैबतपूर,शिवम मराठा, मनिष बस्तली, दिलबाग बतान, कर्मवीर जी, जितेन्द्र बोक्सर राजौन्द, मुक्की बोक्सर, परमजीत मराठा चोरकारसा, विपिन नेवल, अन्य साथी मौजूद रहे।

करनाल. बॉक्सर मनोज कुमार को न्याय देने की मांग को लेकर शहर में प्रदर्शन करते सी.एस.वी.पी के सैंकड़ो कार्यकर्ता
छत्रपति शिवाजी विद्यार्थी परिषद (सी.एस.वी.पी) संगठन की सदस्य बनने के लिए निचे लिंक खोलकर सद्स्य बन सकते हैं।

http://csvpbharat.org/?q=node/add/membership-request